Categories Shivangi Saxena

विवाह और विवशता

17  बरस की थी जब मेरा विवाह दिल्ली के किसी परिवार के साथ मुझसे बिना पूछे तय कर दिए गया । यूँ तोह मेरा आगे  आगे पढ़ने लिखने का विचार था परन्तु घर मे लड़कियों की सुनता कौन है । जब मैंने अपने आगे पढ़ने की बात घर मे सबको बताई तोह भाई ने मुझे […]

Read More
Categories Shivangi Saxena

TOP 10 MISCONCEPTIONS ABOUT ISLAM

Islam is the second most populous religion in the world, comprising of more than 1.4 billion adherents world over, second only to Christianity which has 2 billion followers. Islam was founded in the 7th century. Its history starts from 622 AD SAMVAT called HAJRI when its founder prophet HAZRAT MOHAMMAD went from Madina to Mecca […]

Read More
Categories Shivangi Saxena

किन्नर और वैश्यावृत्ति

मैंने चाँद को सूरज निगलते देखा है सिक्कों की खनक पर ज़िंदा लाशों को बिकते देखा है। कीचड मे पैर रखो तोह छीटे तुमपर ही गिरती है। वेश्यावृत्ति को भारत मे कानूनी रूप से मंज़ूरी ज़रूर मिल गयी हो परन्तु समाज के भीतर एक वेश्या का स्थान काले अक्षरों मे ही लिखा मटमैला रचित है। […]

Read More